संत कबीर दास जयन्ती हुडा कन्वैंशन सैन्टर में बड़ी धूमधाम से मनाई

0
724

Faridabad News : संत कबीर दास जयन्ती आज यहां हुडा कन्वैंशन सैन्टर में बड़ी धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम का शुभारम्भ हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल ने दीप प्रज्जवलित करके किया।

उन्होंने कहा कि संत कबीर दास कला से परिपूर्ण हिन्दुस्तान की एक धरोहर रहे हैं। वे जुलाहे का काम करते थे और पढ़े लिखे न होते हुए भी उन्होंने अपनी कविताओं और दोहों का साहित्य बना डाला। संत कबीर दास ने समाज में फैले रूढ़िवाद, जातिपाति भेदभाव, मूर्तिपूजा और अन्धविश्वास आदि कुरूतियों को जड़ से समाप्त किया और अपनी कविता और दोहों द्वारा उन्होंने जनजागरण का काम किया।

उद्योग मंत्री ने कहा कि 500 साल बाद संत कबीर दास जयंती को प्रचारित करने का काम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। प्रधानमंत्री द्वारा रविदास, सूरदास व अम्बेडरकर आदि संतो की रचनाओं को प्रचारित-प्रसारित कर समाज में महापुरूषों को श्रद्धाजंलि देने का यह एक महान तरीका है। विपुल गोयल कबीर के दोहे का वर्णन किया कबीरा खडा़ बाजार में, मांगे सबकी खैर, ना काहू से दोस्ती, ना काहू से बैर। उन्होंने कहा कि इस संसार में आकर कबीर अपने जीवन में यही चाहते थे कि सबका भला हो और संसार में किसी से दोस्ती न हो तो दुश्मनी भी न हो। उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी इन दोहों से प्रेरणा लेकर अपने जीवन को आत्मसात करें।

उन्होंने बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पूरे प्रदेश को कबीर जयन्ती की शुभकामनाएं दी। आज पूरे प्रदेश के लगभग सभी जिलों में कबीर जयन्ती को मनाया गया। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि यदि हर आदमी कबीर के तीन-तीन दोहों को अपने जीवन में उतार लें तो उनके जीवन में ज्ञान का अभाव कभी नहीं होगा।

इस अवसर पर विपुल गोयल ने स्कूली बच्चों को उनके सांस्कृतिक कार्यक्रम व दोहोें आदि के लिए 1100-1100 रूपये देकर सम्मानित किया। उन्होंने कबीर पंथ समाज के प्रचारक नाटा को भी शाॅल ओढ़कर सम्मानित किया।

उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने उद्योग मंत्री विपुल गोयल को स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया।
भाजपा जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। उन्होंने संत कबीर दास के बारे में बताया कि जब तक जीवन रहेगा वे हमारे लिए प्रेरणादायक रहेंगे। उन्होंने बताया कि संत कबीर दास ने आध्यात्म की सिद्धियां प्राप्त की थी। उन्होंने समाज में फैली रूढ़िवादी विचारधारा को अपने अध्यात्म से दूर किया। गोपाल शर्मा ने बताया कि यदि कोई जीव कल्याण करता है तो उसका व्यक्तित्व प्रकाशमान होता है।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त जितेन्द्र दहिया, नगराधीश श्रीमती बलिना, एसडीएम बल्लबगढ़ राजेश कुमार, एसडीएम बड़खल अजय चोपड़ा, डीसीपी सैन्ट्रल लोकेन्द्र, जिला शिक्षा अधिकारी सतिन्द्र कौर, जिला कल्याण अधिकारी वन्दना शर्मा तथा भाजपा जिला महामंत्री सोहन पाल छोकर के अलावा अन्य अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here