महिला एएसआई के खिलाफ संदीप के परिजनों ने डीसीपी हैडक्वार्टर को सौंपी शिकायत

0
852

Faridabad News, 26 March 2019 : अदालत परिसर से महिला एएसआई की मार से बचने के लिए तीसरी मंजिल से गिरकर जख्मी हुए युवक के मामले को लेकर मंगलवार को सैकड़ों लोग क्षत्रिय सभा बल्लभगढ़ के अध्यक्ष राजेश रावत व ठाकुर राजाराम के नेतृत्व में सेक्टर-21ए स्थित पुलिस कमिश्रर कार्यालय पहुंचे, जहां पुलिस कमिश्रर की अनुपस्थिति में लोगों ने डीसीपी हैडक्वार्टर नितिका गहलोत से मुलाकात कर उन्हें शिकायत सौंपी और इस मामले में निष्पक्ष जांच कराते हुए महिला एएएसआई सुमन को तुरंत निलंबित करने की मांग की। घायल संदीप के पिता रमेश पुत्र रामचंद्र निवासी राजूपुर खादर ने बताया कि उसके बेटे का किसी बल्लभगढ़ की युवती से प्रेम प्रसंग था, दोनों परिवारों ने यह रिश्ता मंजूर कर दिया था परंतु मामले की जांच करने वाली एएसआई सुमन ने जबरन उनके बेटे के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर लिया, जबकि लडक़ी ने अपने बयान में स्पष्ट कार्यवाही करने से मना कर दिया था और बकायदा अपने बयान भी दर्ज करवाए थे। इसके बावजूद महिला एएएसआई ने जबरन उस पर मुकदमा दर्ज किया और गिरफ्तार के बाद उसे थाने में टॉर्चर किया और सोमवार को जब उसे अदालत में पेश किया गया और पेशी के बाद जब उसे वापिस लाया जा रहा था तो महिला एएसआई ने फिर उससे मारपीट की, जिससे संदीप डर गया और बचाव के चक्कर में वह तीसरी मंजिल से गिर गया। पीडि़त पिता ने आरोप लगाया कि आज उसका बेटा जिंदगी और मौत से जूझ रहा है, जिसके लिए महिला एएसआई पूरी तरह से दोषी है। डीसीपी हैडक्वार्टर नितिका गहलोत ने लोगों की शिकायत सुनने के बाद उन्हें आश्वासन दिया कि इस मामले की पूरी तरह निष्पक्ष जांच करवाई जाएगी और अगर आईओ दोषी है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। इससे पूर्व लोगों ने एक शिकायत सैंट्रल थाने में भी दर्ज करवाई है। इस मौके पर सुरेंद्र तेवतिया, योगराज रावत, प्रताप भाटी, अतर राठौर, रामचंद्र सरपंच, महेंद्र सिंह, चुन्नू राजपूत, रमेश सिंह, मूलचंद, ब्रहम सरपंच, प्रेमी, रेवती नंदन, पूर्ण सिंह, भगवान दास, आशाराम सहित अनेकों महिला-पुरुष उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here