आशा ज्योति विद्यापीठ शिक्षण संस्थान में आपदा प्रबंधन पर सेमिनार का हुआ आयोजन

0
765

Faridabad News, 25 Sep 2018 :  सेक्टर-65 बाईपास रोड स्थित साहुपुरा आशा ज्योति विद्यापीठ शिक्षण संस्थान में आज आपदा प्रबंधन पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया। इस मौके पर आपदा प्रबंधन के प्रमुख विशेषज्ञ एवं समाजसेवी डॉ. एमपी सिंह मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे जिन्होंने स्कूल के बच्चों को आपदा प्रबंधन तथा आग से बचने के उपायों के विषय में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर स्कूल के चेयरमैन सत्यवीर डागर ने जहां मुख्य वक्ता को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। वहीं बच्चों से सीधी बातचीत के बाद एमपी सिंह ने कहा कि वह आज तक दर्जनों स्कूलों में इस प्रकार के सेमिनार कर चुके हैं लेकिन जितने सुजाक बच्चे उनको आशा ज्योति विद्यापीठ में मिले हैं, आज तक नहीं मिले। इस सेमिनार के दौरान एमपी सिंह ने उन सभी प्राकृतिक आपदाओं के विषय में स्कूली बच्चों को जानकारी दी जो कि कभी भी कुदरत की तरफ से आ सकती हैं। एमपी सिंह ने ना केवल आपदाओं से बचाव के तरीके बताएं बल्कि साथ ही बच्चों को यह भी बताया कि जब कभी भी किसी भी प्रकार की प्राकृतिक या गैर प्राकृतिक आपदाएं आए, उस स्थिति में सबसे पहले खुद को बचा कर दूसरों की सहायता भी अवश्य करनी चाहिए। उन्होंने इन आपदाओं के बारे में स्कूली बच्चों से सीधे प्रश्न किए और यह देखकर वह दंग रह गए की आशा ज्योति विद्यापीठ के छात्र-छात्राओं को इन आपदाओं से बचने के और दूसरों की सहायता करने के विषय में अच्छी-खासी जानकारी थी। एमपी सिंह ने बच्चों को आग के प्रकारों से लेकर हर प्रकार की आग की स्थिति में किस प्रकार से खुद को तथा दूसरों को बचाया जाए। उसके विषय में ने केवल जानकारी दी बल्कि बच्चों को प्रेक्टिकल करके भी दिखाया।

इस आयोजन के लिए उन्होंने स्कूल प्रशासन की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने दर्जनों स्कूलों का दौरा इस प्रकार के सेमिनार के लिए किया है लेकिन जिस प्रकार की सुविधाएं उन्होंने आशा ज्योति विद्यापीठ में देखी हैं वैसे अच्छे अच्छे स्कूल में नहीं दिखाई दी। उन्होंने स्कूल के प्राचार्य श्रीमती विधु ग्रोवर को इस उपलब्धि के लिए बधाई देते हुए कहा कि वास्तव में आशा ज्योति विद्यापीठ में बच्चों का संपूर्ण विकास हो रहा है। इस मौके पर आशा ज्योति विद्यापीठ की प्राचार्या श्रीमती विधु ग्रोवर ने बताया के उनके स्कूल के बच्चों को प्राकृतिक आपदाओं के विषय में इतनी अधिक जानकारी का प्रमुख कारण यह है कि स्कूल के चेयरमैन सत्यवीर डागर ने इस स्कूल के निर्माण के दौरान उन सभी मांगों का पूरा पूरा ध्यान रखा है जोकि प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए आवश्यक हैं। उनके अनुसार उनके विद्यालय में अग्नि बचाव यंत्र पूरी तरह से लगे हुए हैं और न केवल यह सिस्टम आशा ज्योति विद्यापीठ में लगा हुआ है बल्कि समय समय पर मॉक ड्रिल कर बच्चों को प्रशिक्षित भी किया जाता है कि विषम परिस्थितियों में किस प्रकार से इन यंत्रों का प्रयोग कर इनका सदुपयोग किया जा सकता है। श्रीमती विधु ग्रोवर ने बच्चों को इस प्रकार की जानकारी देने के लिए एमपी सिंह का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनको विश्वास है कि इस सेमिनार से स्कूल के बच्चों की जानकारी में और इजाफा हुआ होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here