श्री सिद्धदाता आश्रम में गुरु पूर्णिमा महोत्सव के तीसरे दिन हजारों सेवादारों ने किए गुरु दर्शन

0
592

Faridabad News, 16 July 2019 : श्री गुरु पूर्णिमा महोत्सव के तीसरे दिन सिद्धदाता आश्रम में सेवादारों को सम्मान एवं आशीर्वाद प्राप्त हुआ। आश्रम के विभिन्न प्रकल्पों में सेवारत रहने वाले हजारों भक्तों ने गुरु के दर्शन कर पूर्णिमा को पूर्ण किया।

गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण होने और भक्तों की भारी संख्या को देखते हुए इस बार श्री सिद्धदाता आश्रम में तीन दिन का महोत्सव मनाया गया। जहां तीनों दिन पूरा दिन भक्तों का तांता लगा रहा। उल्लेखनीय है कि सनातन परंपरा में गुरु पूर्णिमा को सबसे बड़े पर्व की संज्ञा दी जाती है क्योंकि इस जीवन में हर व्यक्ति किसी न किसी को अपना गुरु मानता है और यह पूर्णिमा गुरु के प्रति अपने भावों को प्रकट करने के लिए मनाई जाती है। इसलिए अन्य पर्वों के मुकाबिल आश्रम में भी भक्तों की संख्या अधिक रहती है।

आज श्री गुरु महाराज ने वैकुुंठवासी स्वामी की समाधि एवं मंदिर में स्थापित प्रतिमा के समक्ष पूजा अर्चना की। इसके बाद भक्तों ने अधिपति अनंतश्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज का पूजन किया। इस अवसर पर दिए प्रवचन में स्वामीजी ने कहा कि शिष्य को अपने गुरु पर विश्वास रखना चाहिए। यह विश्वास भगवान से मिलवा सकता है। जैसे शबरी ने अपने गुरु मतंग ऋषि की वाणी पर विश्वास कर प्रतिदिन राह को बुहारना जारी रखा और एक दिन भगवान श्री राम ने उनको दर्शन दिए। स्वामी जी ने एक प्रसंग के माध्यम से नारी शक्ति का भी बखान किया। उन्होंने कहा कि शक्ति के बिना शिव भी अधूरे हैं। भगवान भी किसी कार्य को संपन्न कराने के लिए शक्ति का ही सहारा लेते हैं।

इस अवसर पर आश्रम संचालन समिति के सदस्यों एवं विभिन्न सेवाओं में रत सेवादारों ने गुरु महाराज का माल्यार्पण कर अपने भावों का प्रकटन किया। वहीं भजन गायक लोकेश शर्मा ने साथियों सहित सबको खूब झुमाया। यहां सभी को गुरु महाराज से व्यक्तिगत आशीर्वाद एवं प्रसाद तदुपरांत भोजन प्रसाद प्राप्त हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here