एनएसयूआई ने फूंका मुख्यमंत्री मनोहार लाल का पुतला

0
631

Faridabad News, 13 April 2019 : सीएम सिटी करनाल में 11 अप्रैल को आईटीआई के छात्रों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री के नेतृत्व में छात्रों ने खट्टर सरकार के खिलाफ सेक्टर-16 स्थित पं. जवाहर लाल नेहरू कॉलेज के बाहर जमकर नारेबाजी करके मुख्यमंत्री मनोहार लाल खट्टर का पुतला फूंका।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कृष्ण अत्री ने बताया कि 11 अप्रैल को करनाल में आईटीआई के एक छात्र की बस के नीचे आ जाने से मौत हो गई थी जिसके लिए न्याय मांगने के लिए उसके साथी छात्र-छात्राएं विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान पुलिस ने शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे उन छात्र छात्राओं पर आँसू गैस के गोले फेंके और जब वो छात्र वहाँ से भागने लगे तो भागते हुए छात्रों पर पुलिस ने बड़ी बेहरहमी से लाठीचार्ज कर दिया। लाठीचार्ज के दौरान पुलिस कॉलेज कैंपस में घुस गई तथा वहाँ पहले से मौजूद छात्राओं एवं अध्यापकों को भी नही बक्शा। लाठीचार्ज के बाद सैंकड़ो छात्रों को पकड़ कर उनके खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कर दिया गया।

कृष्ण अत्री ने कहा कि छात्रों की आवाज को दबाने के लिए खट्टर सरकार इस तरह के हथकंडे पिछले 5 साल से अपनाती आ रही है। इस तरह के हालात जम्मू कश्मीर में नही होते जोकि करनाल में देखने को मिले। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो बीजेपी सरकार युवाओं को लुभाकर सत्ता में आई है और वही दूसरी तरफ न्याय की गुहार लगा रहे छात्र छात्राओं पर बर्बरतापूर्वक लाठी बरसा रही है। इसी तरह की घटना 30 अगस्त 2018 को फरीदाबाद में भी हुई थी, जिसमें शान्तिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे एनएसयूआई के छात्र छात्राओं पर लाठीचार्ज किया गया तथा 9 छात्रों को उठाकर जेल में डाल दिया था।

आखिर में कृष्ण अत्री ने खट्टर सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द से जल्द खट्टर सरकार पकड़े हुए छात्रों को छोड़े तथा उन पर लगे हुए सभी मुकद्दमों को वापिस लें, नही तो इसका अंजाम ठीक नही होगा। एनएसयूआई इसके खिलाफ प्रदेश स्तरीय आंदोलन करने से भी पीछे नही हटेगी।

इस मौके पर सोनू सिंह, दुर्गेश दुग्गल, रोहित कबीरा, रिंकू तेवतिया, लक्ष्मण चौधरी, अजित, उमेश कबीरा, सोनू सैनी, वेदप्रकाश, साहिल खटाना, नवीन भामला, मुस्ताक, खालिद हुसैन, मुस्तकीम, जितेंद्र, आकाश, विनेश, नवीन चौधरी आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here