दिल्ली में प्रदूषण पर उच्चतम न्यायालय सख्त, पंजाब सहित 4 राज्यों को नोटिस

0
149

New Delhi News : उच्चतम न्यायालय ने दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बढ़ते प्रदूषण पर अंकुश के लिए दायर याचिका पर आज केन्द्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब सरकारों को नोटिस जारी किए। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूॢत ए.एम. खानविलकर और न्यायमूॢत डी.वाई. चन्द्रचूड़ की 3 सदस्यीय खंडपीठ ने कहा कि किसी भी अन्य अदालत में प्रदूषण को लेकर चल रही कार्रवाई पर रोक नहीं होगी।

शीर्ष अदालत ने केन्द्र और सबंधित राज्य सरकारों को जिस याचिका पर नोटिस जारी किया है उसमें प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए सौर ऊर्जा और इलैक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने का निर्देश दिए जाने की अपील की गई है। याचिका वकील आर.के. कपूर ने दायर की है। याचिका में सम-विषम कार योजना भी कारगर तरीके से लागू करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है।

‘ऑड-ईवन में महिलाओं-दोपहिया को दें छूट’
दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एन.जी.टी.) में ऑड-ईवन योजना को शर्तों के साथ लागू करने के फैसले पर पुनॢवचार करने के लिए आज याचिका दायर की। पुनॢवचार याचिका में दिल्ली सरकार ने न्यायाधिकरण के उस फैसले, जिसमें ऑड-ईवन के दौरान दोपहिया और महिलाओं को छूट नहीं देने की बात कही गई है, समीक्षा करने का अनुरोध किया है। इससे पहले सुनवाई के दौरान राज्य सरकार के वकील के नहीं पहुंचने पर न्यायाधिकरण ने दिल्ली सरकार को फटकार लगाई थी।

दिल्ली में जहरीली धुंध का कहर जारी, 8 ट्रेनें रद्द
राष्ट्रीय राजधानी को सप्ताह भर से जहरीली धुंध ने अपने आगोश में ले रखा है और उसका कहर आज भी जारी रहा। कुछ इलाकों में दृश्यता घटने के कारण दिल्ली में 8 ट्रेनें रद्द करनी पड़ीं। मौसम विभाग के अनुसार 14-15 नवम्बर को हल्की बारिश होने की संभावना है जिससे कोहरा गहरा सकता है लेकिन जहरीली धुंध छंटने की संभावना है। वहीं दिल्ली के शहरी विकास मंत्री गोपाल राय ने आज कहा कि पर्यावरण विभाग के वैज्ञानिक राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण के स्तर पर ‘लगातार नजर रख रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here