एमडीपीएस स्कूल संचालक की मनमानी जारी, मंच ने मुख्यमंत्री से की शिकायत

0
158

Faridabad News, 26 Sep 2020 : नहर पार स्थित मॉडर्न डीपीएस स्कूल मनमानी से बाज नहीं आ रहा है इस स्कूल का संचालक अब अपने स्टूडेंट के पेरेंट्स पर अपने टीचर से फोन करा कर मनमानी फीस जमा कराने के लिए दबाव डलवा रहा है ऐसा न करने पर उसके बच्चे के दसवीं बोर्ड के रजिस्ट्रेशन कागज सीबीएसई में ना भेजने की धमकी दिलवा रहा है। पीड़ित अभिभावक मुकेश पांडे ने धमकी का रिकॉर्डिंग ऑडियो डॉ महावीर सिंह आईएएस अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा व चेयरमैन एफएफआरसी को भेजकर स्कूल के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग की है। मुकेश पांडे का कहना है कि उन्होंने व अन्य कई पेरेंट्स ने नियमों के तहत पिछले साल की ट्यूशन फीस के हिसाब से ₹7000 की मासिक ट्यूशन फीस अप्रैल से सितंबर की बाई चेक भेज दी है जिसे यह स्कूल स्वीकार नहीं कर रहा है वह बढ़ी हुई मासिक फीस 9260 के हिसाब से मांग रहा है जिसका पेरेंट्स विरोध कर रहे हैं। अभिभावकों ने इस मनमानी की शिकायत चेयरमैन एफएफआरसी कम मंडल कमिश्नर संजय जून, जिला उपायुक्त व जिला शिक्षा अधिकारी से मिलकर कई बार सबूत के साथ की है लेकिन इन्होंने इस स्कूल के खिलाफ कोई भी उचित कार्रवाई आज तक नहीं की है खानापूर्ति के लिए नोटिस भेजकर के कागजी कार्रवाई की जा रही है। अब अभिभावकों ने कहा है कि अगर उनका व उनके बच्चों का इसी प्रकार हरासमेंट व विक्टिमाइजेशन जारी रहा तो अब वे राष्ट्रीय बाल सुधार संरक्षण आयोग का सहारा लेंगे। इस स्कूल के अभिभावकों ने हरियाणा अभिभावक एकता मंच से भी मदद की गुहार लगाई है।

मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा व जिला सचिव डॉ मनोज शर्मा ने कहा है कि एक ओर एफएफआरसी इस स्कूल के पिछले दो-तीन साल के खातों की जांच व ऑडिट करने का ड्रामा कर रहा है तो दूसरी ओर मॉडर्न डीपीएस स्कूल का संचालक राजनीतिक संरक्षण मिलने के कारण पूरी तरह से नियम कानूनों का उल्लंघन करके शुरू से ही बढ़ाई गई ट्यूशन फीस और अन्य कई फंडों में फीस वसूल रहा है। इस मनमानी को रोकने के लिए बनाई गई फीस एंड फंड्स रेगुलेटरी कमेटी के चेयरमैन भी यह जानते हुए भी कि स्कूल प्रबंधक पूरी तरह से नियमों का उल्लंघन करके मनमानी कर रहा है इसके खिलाफ आज तक कोई भी ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। जिससे इस के हौसले बुलंद हैं। मंच ने अभिभावकों को आश्वस्त किया है कि वे पहले की तरह ही मनमानी का डटकर विरोध करें। उनके बच्चों के साथ किसी प्रकार की हरासमेंट नहीं होने दी जाएगी, जरूरी हुआ तो इस स्कूल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। मंच ने मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री, एसीएस शिक्षा को मेल से पत्र भेजकर मॉडर्न डीपीएस स्कूल संचालक की मान्यता रद्द करने और एनओसी वापस लेने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here