प्राइवेट अस्पतालों में कुछ प्रतिशत बैड कोविड-19 पाजीटिव सीरियस केसों के लिए रिजर्व रखें : उपायुक्त यशपाल

0
293

Faridabad News, 16 June 2020 : उपायुक्त यशपाल ने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों में कुछ प्रतिशत बैड कोविड-19 पाजीटिव सीरियस केसों के लिए रिजर्व रखें। कोविड-19 के पाजीटिव मरीजों को उनकी स्थिति के हिसाब से जरूरत पड़ने पर प्राइवेट अस्पतालों में भेजा जाएगा। उनके उपचार पर आने वाले खर्च की अदायगी सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार की जाएगी।

उपायुक्त यशपाल मंगलवार को लघु सचिवालय में स्वास्थ्य विभाग व प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों के साथ बैठक कर उन्हें कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों के इलाज के संबंध में उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे थे।
उन्होंने कहा कि आईसीएमआर की रिपोर्ट के अनुसार आगामी समय में कोविड-19 के पोजिटिव केसों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी होएगी। इसी के मद्देनजर सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार कोविड-19 के पोजिटिव केसों के उपचार के लिए प्रशासन द्वारा अग्रीम तैयारियां की जा रही है। उपायुक्त ने कहा कि जिला के प्राइवेट अस्पतालों में अलग-अलग वार्डों के कल्टसटर बना कर सम्बंधित इलाके के लोगों के पोजिटिव केसों को उपचार के लिए भेजा जाएगा।

उपायुक्त यशपाल ने कहा कि आईसीएमआर की रिपोर्ट के अनुसार जिला में कोरोना के पोजिटिव केसों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटरो के बेडो की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जानी है, इसके लिए प्राइवेट अस्पतालों के सहयोग की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बैड के साथ कोविड केयर सेंटर में आक्सीजन गैस की लाइन अवश्य जुड़ी हुई हो।
उन्होंने कहा कि कोविड-19 के पोजिटिव केसों के लिए सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार वेंटिलेटर की उपलब्धता भी जिला में सुनिश्चित की जानी है। उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों से संबंधित कोविड-19 की टेस्टिंग रिपोर्ट प्रशासन के साथ सांझा अवश्य करें, ताकि जिला से कोविड-19 के बुलेटिन में सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों की कम्पाइल टेस्ट रिपोर्ट सार्वजनिक हो सके।

उपायुक्त यशपाल ने ईएसआई अस्पताल में आईसीयू में प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों के सहयोग देने पर आभार भी व्यक्त किया।

बैठक में प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों ने होम आईसोलेशन पर सम्बंधित इलाके में लोगों को जागरूक करने तथा अन्य चिकित्सा सुविधा में सहयोग करने की भी सहमति प्रदान की। इसके अलावा प्रशासन का पूरा सहयोग देने का आश्वासन भी दिया।

बैठक में उप सिविल सर्जन डॉ रमेश चन्द्र, एसएमओ डॉ राजेश श्योकन्द, आईएमए जिला प्रेजिडेंट डॉ पुनीता हसिजा सहित प्राइवेट अस्पतालों के सीनियर चिकित्सक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here