जे सी बोस विश्वविद्यालय ने श्नाइडर इलेक्ट्रिक के साथ किया समझौता

0
80

Faridabad News, 24 Nov 2020 : जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद दक्षता और स्थिरता के लिए ऊर्जा और स्वचालन डिजिटल समाधान प्रदान करने वाली फ्रांसीसी बहुराष्ट्रीय कंपनी श्नाइडर इलेक्ट्रिक का प्रशिक्षण और शिक्षा के क्षेत्र में भागीदार बन गया है। विश्वविद्यालय ने विद्युत, स्वचालन, ऊर्जा प्रबंधन एवं नवीकरणीय ऊर्जा और इसके संबंधित क्षेत्रों में विश्व स्तरीय बुनियादी संरचना और सुविधाओं के विस्तार के लिए श्नाइडर इलेक्ट्रिक के साथ एक समझौता किया है।

डिजिटल प्लेटफार्म पर आयोजित समझौता हस्तांतरण समारोह में कुलपति प्रो दिनेश कुमार, कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की अध्यक्षा प्रो. पूनम सिंघल एवं अन्य संकाय सदस्य, निदेशक इंडस्ट्री रिलेशन्स डॉ. रश्मि पोपली, और श्नाइडर इलेक्ट्रिक के महाप्रबंधक-शिक्षा एवं प्रशिक्षण साई कृष्णा राव मौजूद रहे।

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को औद्योगिक जरूरतों के अनुकूल तकनीकी कौशल प्रदान करने और उनकी रोजगार क्षमता बढ़ाने के लिए औद्योगिक समझौते पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय औद्योगिक आवश्यकताओं के अनुरूप रोजगार के अवसरों के लाभ उठाने के लिए विद्यार्थियों के कौशल विकास के लिए उद्योग-अकादमिक साझेदारी को बढ़ावा दे रहा है। उन्होंने कहा कि यह साझेदारी औद्योगिक आवश्यकताओं को भी पूरा करेगी।

साई कृष्णा राव ने कहा कि श्नाइडर इलेक्ट्रिक द्वारा विश्वविद्यालय के साथ सहभागिता में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे तथा प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के सफल समापन पर प्रशिक्षुओं और प्रशिक्षकों को प्रमाणित किया जायेगा।
प्रो. पूनम सिंघल ने अवगत कराया कि श्नाइडर इलेक्ट्रिक विश्वविद्यालय को अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं को स्थापित करने और पाठ्यक्रम तथा पाठ्यक्रम सामग्री को डिजाइन करने में मदद करेगा, जोकि विद्युत तथा स्वचालन एवं ऊर्जा प्रबंधन के सभी क्षेत्रों में उद्योग की बढ़ती मांग के अनुरूप होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here