लक्षणों का नहीं बल्कि रोगों की जड़ों का उपचार करना जरूरी: डॉ. चंद्रशेखर तिवारी

0
232
Faridabad News, 18 Sep 2018 : सिगफा सॉल्यूशंस के अध्यक्ष डॉ. चंद्रशेखर तिवारी ने कहा कि मौजूदा समय में लोग दवाइयों से स्वयं को ठीक करने के लिए बहुत अधिक खर्च कर रहे हैं। अधिक खर्च करने के बाद भी ज्यादातर बीमारियों में निराशा ही हाथ लगती है। साइको न्यरोबिक्स एक ऐसा माध्यम है जिसे नियमित अपनाने से बीमारियां दूर रहेगी। किसी भी तरह के रोग का मूल कारण मन में निहित होता है। सभी तरह के रोगों का जन्म पहले मानसिक स्तर पर होता है। बाद में ये शारीरिक स्तर पर दिखने लगता है।
वे ग्रीन फील्ड कॉलोनी स्थित कार्यालय में साइको न्यूरोबिक्स कार्याशाला में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अगर हम मन को भी स्वस्थ रख सकेंं तो शरीर अपने आप स्वस्थ हो जाएगा। मन को ही स्वस्थ रखने की विधि साइको न्यूरोबिक्स है। डॉ. तिवारी को साइको न्यूरोबिक्स का जनक कहा जाता है। उन्होंने बताया कि साइको न्यूरोबिक्स एक ऐसा अभ्यास है। जिसमें हम अपने मन को आत्मिक ऊर्जा के सर्वोच्च स्रोत ईश्वर से जोड़ते हैं। इसके माध्यम से मन और शरीर को स्वस्थ रखते हैं। डॉ. तिवारी ने बताया कि साइको न्यूरोबिक्स अभ्यासों को इस प्रकार विकसित किया गया है। जिससे शरीर की संपूर्ण तंत्रिका प्रणाली और मानसिक स्वास्थ्य के साथ मस्तिष्क की शक्ति और लचीलेपन को बनाए रखने में मदद मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here