मैगपाई में आयोजित कार्यक्रम में निबंध प्रतियोगिता पेनॉथान-2019 के विजेताओं को किया सम्मानित

0
42

Faridabad News, 31 Aug 2019 : उड़ान आईएएस इस्टीट्यूट द्वारा पेनॉथान-2019 प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित करने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन मैगपाई पर्यटन स्थल पर किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सिद्वार्थ जैन(आईएएस),सीबी रॉवल चेयरमेन रॉवल शिक्षण संस्थान जबकि विशिष्ट अतिथि राजीव चावला चेयरमेन आईएम एसएमई ऑफ इडिया प्रसिद्व कवि दिनेश रघ़वंशी, सम्मानीय अतिथि अनुपम मलिक पूर्व अतिरिक्त श्रम आयुक्त व सुरेश सिंह चेयरमेन बाबा कढ़ेहरा सिंह इंजीनियरिंग कालेज उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारंभ गणमान्य अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। इसके उपरांत सरस्वती वंदना व स्वागत गीत पेश किया गया। इस अवस पर मौजूद अतिथियों ने 4 अगस्त 2019 को हुई निबंध प्रतियोगिता पेनॉथान-2019 के विजेताओं जिनमें प्रथम पुरूस्कार कार्तिकेय गौर,द्वितीय पुरूस्कार श्रीमति किरन,तृतीय पुरूस्कार कु.सिमरन आहूजा,सांत्वना पुरूस्कार अर्चित अग्रवाल,बडिंग स्टॅार पुरूकार राहुल,बेस्ट प्रसेन्टेंशन पुरूस्कार कु.यशविनी को दिया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि सी बी रॉवल ने उड़ान इस्टीटयूट की डायरेक्टर जयश्री चौधरी को एक दूरदर्शी मागदर्शिका बताते हुए विद्याथियों से कहा कि आप आईएएस की तैयारी करने के लिए सुरक्षित हाथों में है। उन्होनें कहा कि जैसा की इस इस्टीटयूट का नाम ही उड़ान है तो यह छात्रों को उनके लक्ष्यों को हासिल करने में पूरी मदद करता है। इस अवसर पर आईएएस सिद्वार्थ जैन ने कहा कि उनके आईएएस सलेक्शन में डॉ.जयश्री चौधरी की भी एक सराहनीय भूमिका रही है। उन्होनें कहा कि उड़ान फरीदाबाद और दिल्ली एनसीआर में आईएएस की तैयारी का एक बेहतरीन संस्थान है। अब छात्रों की आईएएस की तैयारी के लिए दिल्ली जाना अनिवार्य नहीं है। इस मौके पर राजीव चावला ने कहा कि जीवन में कुछ भी असंभव नहीं है बस इच्छाशक्ति होनी चाहिए। उन्होनें कहा कि जीवन में कुछ पाने का महत्वपूर्ण सिद्वांत है मेहनत और लगन। इसलिए आज ही से आप सभी अपना लक्ष्य निर्धारित करें और उड़ान टीम के साथ कन्धे से कन्धा मिलाते हुए अपनी मंजिल को प्राप्त करें। इस अवसर पर प्रसिद्व कवि दिनेश रघुवंशी ने कहा कि जैसे पूत के पांव पालने में ही दिख जाते है वैसे ही जिस दिन डॉ.जयश्री चौधरी ने दिल्ली विश्वविद्यालय टॉप किया था वो उसी दिन भांप गए थे कि यह लडक़ी जीवन में कुछ बड़ा करेगी। इस मौके पर जयश्री चौधरी ने कहा कि मेरे लिए वह दिन सपने से कम नहीं था जब मुझे पता चला कि सिद्वार्थ जैन का आईएएस में सिलेक्शन हो गया है। उन्होनें कहा कि सिद्वार्थ जैन भी उड़ान आईएएस से जुड़े एक महत्वपूर्ण मागदर्शक है और वो जब भी दिल्ली आते है तो छात्रों के मागदर्शन के लिए उड़ान आईएएस में जरूर आते है। उन्होंनें कहा कि अब मेरा लक्ष्य रहेगा कि में अपनी टीम के साथ कड़ी मेहनत करूं ताकि 2020 में देश को 10 आईएएस दे सकूं। इस अवसर पर आईएएस सिद्वार्थ जैन ने नवोदित छात्रों को आईएएस कैसे उतीर्ण किया जाए इस बारे कई महत्वपूर्ण टिप्स दिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here