कोविड-19 मामलों में खतरनाक वृद्धि से गोल्ड, क्रूड और कॉपर की कीमतों को नुकसान

0
121

New Delhi, 27 Oct 2020 : यूरोप और उत्तरी अमेरिका में कोरोनोवायरस के मामलों में खतरनाक वृद्धि और लॉकडाउन के मजबूत होने की चिंताओं ने पीली धातु को समर्थन प्रदान किया और क्रूड ऑयल व कॉपर के लाभ को सीमित किया। जरूरत से ज्यादा उत्पादन और वैश्विक मांग में कमजोरी के कारण तेल की कीमतें कम हो गईं।श्री प्रभातेश माल्या एवीपी-रिसर्च, नॉन-एग्री कमोडिटीज एंड करेंसी, एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड

सोना
सोने की कीमत 1.06% तक कम हो गई और वह अमेरिका में अतिरिक्त प्रोत्साहन पैकेज पर अनिश्चितता के बीच $1,904 प्रति औंस पर बंद हुआ। इसके अलावा अमेरिकी जॉब डेटा में उम्मीद से बेहतर परफॉर्मंस ने सोने को थोड़ा कमजोर किया। अमेरिकी हाऊस स्पीकर नैन्सी पेलोसी और ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीव मेनुचिन ने दोनों पक्षों में गैप को पाटने की कोशिश की। इसने अमेरिकी डॉलर को मजबूत किया क्योंकि राष्ट्रपति ट्रम्प ने नए कोरोना राहत बिल पर डील न होने के लिए डेमोक्रेट्स को दोषी ठहराया। अमेरिकी डॉलर के मजबूत होने से पीली धातु की अपील में थोड़ी कमी आई।

हालांकि, दुनियाभर में कोरोनोवायरस के मामलों ने 41.7 मिलियन का आंकड़ा पार कर लिया, इससे यूरोप में वायरस-प्रेरित लॉकडाउन के फिर लगने से सेफ हैवन गोल्ड की अपील को बढ़ावा मिला। अमेरिकी में राष्ट्रपति चुनावों से पहले अतिरिक्त रिलीफ पैकेज पर डील के कोई भी महत्वपूर्ण संकेत न मिलने से भी सोने की मांग पर नकारात्मक असर पड़ा।

कच्चा तेल डब्ल्यूटीआई क्रूड 1.52% की बढ़त के साथ 40.6 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ क्योंकि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि अगर महामारी का व्यापक प्रभाव जारी रहा तो उत्पादन में कटौती होगी। हालांकि, उत्पादन में कटौती से कुछ समर्थन मिल सकता है। यूरोप और उत्तरी अमेरिका में कोरोनोवायरस के मामलों में खतरनाक वृद्धि ने लॉकडाउन की मजबूती को प्रेरित किया, जिसने क्रूड के लिए आउटलुक और आगे की कीमतों पर दबाव को बढ़ाया। एनर्जी इंफर्मेशन एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार ऑयल की कमजोर मांग के कारण 1.8 मिलियन बैरल के बाजार की उम्मीद के साथ अमेरिकी गैसोलीन इन्वेंट्री 1.9 मिलियन बैरल बढ़ी।

लीबिया क्रूड का उत्पादन भी बढ़ा क्योंकि उसके सबसे बड़े तेल क्षेत्र शरारा ने कमजोर मांग के बीच उत्पादन फिर से शुरू किया, जिससे लाभ को और सीमित रखा। कोरोनावायरस की दूसरी लहर की चिंता के साथ लॉकडाउन के मजबूती और लीबिया के बढ़े हुए तेल उत्पादन ने लाभ को रोक कर रखा है। बेस मेटल अमेरिकी डॉलर में मजबूती के बीच एलएमई बेस मेटल्स हरे रंग में बंद हुए। कोरोनवायरस के मामलों में वृद्धि ने औद्योगिक धातुओं के लिए आउटलुक को कम कर दिया। इंटरनेशनल लेड और जिंक स्टडी ग्रुप की रिपोर्टों के अनुसार चीन के बाहर कमजोर मांग की वजह से वैश्विक जिंक और लेड बाजार में सरप्लस बढ़ रहा है। सितंबर 20 में चीन का प्रायमरी एल्युमीनियम उत्पादन सालाना आधार पर 7.9% बढ़ा और 3.16 मिलियन टन रहा, क्योंकि नए स्मेल्टर्स सामने आए जिसने उत्पादन में वृद्धि हुई। इंटरनेशनल निकल स्टडी ग्रुप के अनुसार ग्लोबल निकल बाजार का सरप्लस अगस्त’20 में घटकर 6,600 टन हो गया, जो जुलाई के 20 में 8,400 टन था।

तांबा एलएमई कॉपर 0.99% तक कम हो गया और अमेरिका द्वारा अतिरिक्त रिलीफ पैकेज डील में देरी के कारण $6922.5 प्रति टन पर बंद हुआ और इकोनॉमिक आउटलुक में कमजोरी आई, जिससे कीमतें भी घटी हैं।

अमेरिका में नए कोरोनोवायरस रिलीफ बिल पर जारी बातचीत और दुनिया भर में कोविड-19 मामलों में खतरनाक वृद्धि से औद्योगिक धातुओं में और गिरावट आ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here