सफाई कर्मचारियों का आठवें दिन भी निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन

0
264

Faridabad News, 28 May 2019 : गेहूं ऋण में देरी से नाराज नगर निगम सफाई कर्मचारियों ने आज आठवें दिन भी निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। नाराज कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि कल बुधवार से निगम के सफाई कर्मचारी टूल डाऊन हड़ताल पर चले जाएगें। आज के प्रदर्शन की अध्यक्षता नगर निगम सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने की तथा मंच का संचालन प्रकाश प्रचारी ने किया।

कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री व सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने कहा कि प्रदेश की कई दर्जनों पालिका, परिषद व निगमों में वित्त स्थिति कमजोर होने के कारण कर्मचारियों को समय पर वेतन एवं वेतन से संबंधित लाभ नहीं मिल पा रहे है। दोनों ही नेताओं ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों व वर्तमान सरकार की नीतियों में फर्क नहीं है। पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने हाऊस टैक्स, डवलेपमेंट चार्ज सहित कई टैक्सों की दरें कम कर शहरी स्थानीय निकाय स्वशासन संस्थाओं की कमर तोड़ का काम किया था। भाजपा सरकार ने दो कदम आगे बढ़ाते हुए शराब व व्हीकल टैक्स पर रोक लगाकर इन संस्थाओं को और ज्यादा कमजोर करने का काम किया।

पिछले एक सप्ताह से निगमायुक्त के कार्यालय में न होने के कारण निगम के अधिकारी भी बेलगाम हो गए है। गरीब सफाई कर्मचारियों की जायज मांग को वित्त विभाग अभी तक पूरा करने में असमर्थता जता रहा है। जबकि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने विभागों में तैनात चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को ब्याज मुक्त ऋण देने की घोषणा का परिपत्र जारी किया हुआ है।

बलवीर सिंह बालगुहेर ने वित्त विभाग को चेतावनी दी है कि अगर कल तक कर्मचारियों को गेहूं अनुदान राशि नहीं दी गई तो मजबूरन कर्मचारी टूल डाऊन हड़ताल पर चले जाएगें। जिसकी जिम्मेदारी लेखा अधिकारी व वित्त विभाग की होगी।

आज की सभा को अन्य के अलावा कर्मी नेता श्री नंद ढकोलिया, सचिव सोमपाल झिझोटिया, जितेन्द्र, रगबीर चौटाला, विजय चावला, बल्लू चिण्डालिया, दर्शन सिंह सोया, रविन्द्र टांक, प्रेमपाल, महेन्द्र कुण्डिया, वेद प्रकाश, दान सिंह, नरेश कुमार भगवाना, देशराज डाबर, सूरजकीर, धर्म सिंह मुल्ला, राजबीर चिण्डालिया, देवेन्द्र कुमार, महिला विंग की नेता माया, कमला, शकुन्तला, सत्तो देवी, ज्ञानो देवी, बबीता सहित अनेकों कर्मचारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here