डी.ए.वी. शताब्दी महाविद्यालय में रोड सेफ्टी क्लब के द्वारा एक दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

0
599

Faridabad News, 28 March 2019 : डी.ए.वी. शताब्दी महाविद्यालय, फरीदाबाद में रोड सेफ्टी क्लब के द्वारा DGHE, हरियाणा के संयोजन से 28.03.2019 को एक दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार में मुख्य अतिथि एडिशनल डिप्टी कमिशनर एवं आर.टी.ए. के सचिव धर्मेंन्द्र सिंह ने दीप प्रजज्वलित कर ‘सड़क सुरक्षा’ विषय पर आधारित कार्यक्रम का शुभभारम्भ किया। रोड सेफ्टी, नोडल ऑफिसर, फरीदाबाद डाॅ. एम.पी. सिंह के निर्देशन में काॅलेज के रोड सेफ्टी क्लब के सदस्य डाॅ. सुनीति आहूजा और डाॅ. नरेन्द्र दुग्गल के सहयोग से इस जागरूकतापूर्ण सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के साथ साथ डी. एस. ओ. फरीदाबाद, जे. एस.मल्लिक, डिप्टी सी. एम. ओ., फरीदाबाद डाॅ. गुलशन शर्मा, एडवोकेट सतीश आचार्य, ब्रहम कुमारी संस्था से आयी कुमारी बी. के. रंजना और टैफिक ताऊ वीरेन्द्र बनहारा ने भी अपनी उपस्थिति से सेमिनार की गरिमा बढ़ायी। कार्यक्रम के संरक्षक एवं काॅलेज प्राचार्य डा. सतीश आहूजा ने पुष्प भेंट कर समस्त सम्मानित अतिथियों का हार्दिक अभिनन्दन किया और सड़क सुरक्षा जैसे ज्वलन्त विषय पर अपने विचार प्रस्तुत किये।

डा. सतीश आहूजा ने कहा कि भारत में प्रारम्भ से चली आ रही समस्याओं का स्वरूप आज भी नहीं बदला है। उन्होनें छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आजकल के युवाओं को न केवल डिग्रियाँ प्राप्त कर रोजगार की तलाश पर ध्यान देना चाहिए बल्कि समस्त प्रकार के सड़क सुरक्षा नियमों व कानूनों के पालन एवं संरक्षण पर भी ध्यान देना चाहिए ताकि वे आगे चलकर न केवल अपने शहर बल्कि अपने राज्य और अपने देश की सुरक्षा में अपना योगदान दे सकें।

मुख्य अतिथि श्री धर्मेंन्द्र सिंह ने अपने वक्तव्य में दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि यह हमारे देश की सबसे बड़ी विडम्बना है कि हमें हमारे ही देश के नागरिकों को सड़क सुरक्षा के नियमों एवं कानूनों के पालन के लिए जागरूक बनाने की आवष्यकता पड़ रही है। उनके अनुसार देष में सड़क दुर्घटनाओं से होने वाली मृत्यु का आंकड़ा रोगो से होने वाली मृत्यु से कहीं ज्यादा है। अतः हम सभी को केवल अपनी आदतों को बदलने की जरूरत है जिसके लिए किसी विषेश प्रकार के प्रषिक्षण एवं वित्तीय सहयोग की आवष्यकता नहीं होती है, केवल सड़क सुरक्षा के नियमों का उचित रूप से अनुपालन करने की चेष्टा करनी है। मुख्य अतिथि महोदय ने चुनावी महासागर में सभी छात्रों से आगे बढ़कर अपने आस पास के क्षेत्रों में वोटर आई. डी. कार्ड बनवाने और वोट डालनें के बारें में लोगों को जागरूक करने की अपील की है। उन्होनें आजकल के युवाओं को स्वयं आगे बढ़कर चुनाव समिति और सड़क सुरक्षा के नियमों का ब्रांड एम्बेस्डर बनने का संदेश दिया। सेमिनार में छात्रों द्वारा एक नुक्कड़ नाटिका प्रस्तुत की गई जिसमें सड़क पर सुरक्षित चलने के फायदों को अत्यंत सरलतापूर्वक समझाया गया। छात्रों में अपने मध्य ट्रैफिक ताऊ को पाकर अत्यंत ख़ुशी और उल्लास का भाव था। काॅलेज प्रचार्य ने ट्रैफिक ताऊ के द्वारा अपना सम्पूर्ण जीवन सड़क सुरक्षा के कानूनों से बच्चों को अवगत कराने के लिए समर्पित करने पर उनके प्रति हार्दिक आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर रोड सेफ्टी विषय पर क्वि़ज प्रतियोगिता, पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता और स्लोगन राइटिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न विभागों से आये छात्र छात्राओं ने भाग लिया। सेमिनार में अनेक वरिष्ठ षिक्षक प्रोफेसर मुकेश बंसल, डाॅ. डी. पी. वैद्य, डाॅ. जितेन्द्र ढुल, डाॅ. आर. पी. सिंह, डाॅ. सुनीता डूडेजा डाॅ. नीरज सिंह आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here