क्राइम ब्रांच एनआईटी ने वाहन चोरी करने वाले एक आरोपी को अवैध हथियार सहित किया काबू

0
224

Faridabad News, 14 July 2020 : पुलिस आयुक्त महोदय ओ पी सिंह के द्वारा फरीदाबाद जिले में चोरियों की घटनाओं पर रोकथाम लगाने के लिए चलाए गए अभियान के तहत क्राइम ब्रांच एनआईटी ने अवैध हथियार सहित एक शातिर चोर को गिरफ्तार किया है।

श्री मकसूद अहमद, डीसीपी क्राइम ने आज जानकारी देते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच एनआईटी ने 12 जुलाई को डब्लू पुत्र गौरीशंकर निवासी नियर साईं मंदिर गड्ढा कॉलोनी फरीदाबाद को वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम देने के जुर्म में गिरफ्तार किया है।

क्राइम ब्रांच एनआईटी को सुचना मिली कि वाहन चोरी की वारदात को अंजाम देने वाला एक आरोपी चोरी किए गए वाहन को बेचने की फिराक में सेक्टर 30 में घूम रहा है।

सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच एनआईटी ने अपनी टीम के सभी मेंबर को अलग-अलग मोटरसाइकिल और प्राइवेट गाड़ियों में पकड़ने के लिए रेड के लिए रवाना किया।

रेड के दौरान आरोपी को क्राइम ब्रांच एनआईटी की टीम ने पुलिस लाइन कट बायपास रोड सेक्टर 30 से अवैध हथियार देसी पिस्टल सहित गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई।

आरोपी के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत सेक्टर 31 थाना में मुकदमा नंबर 217 दर्ज किया गया है।

पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने यह पिस्टल एक व्यक्ति से बल्लभगढ़ बस स्टैंड से करीब 3500 रुपए में खरीदी थी।

आरोपी इस पिस्टल का इस्तेमाल चोरी की वारदात को अंजाम देते समय करता था ताकि अगर कोई मौके पर आ जाए तो उसको पिस्टल दिखाकर वहां से भाग सके।
आरोपी ने चोरी की चार वारदात को अंजाम देना कबूल किया है। आरोपी ने वैगनआर गाड़ी को सेक्टर 29 सब्जी मंडी, स्कूटी व एक मोटरसाइकिल को राजेंद्र कॉलोनी गांव मवई से और एक अन्य मोटरसाइकिल को पर्वतीय कॉलोनी नाले के पास से चोरी की थी।

उपरोक्त चोरी के जुर्म में आरोपी के खिलाफ थाना सारण में 1 मुकदमा, थाना सेक्टर 31 में दो मुकदमे और थाना खेड़ी पुल में एक मुकदमा दर्ज है। उपरोक्त चोरी के 4 मुकदमों को आरोपी से सुलझाया गया है।

आरोपी से उपरोक्त मुकदमों में चोरी, 1 वैगनआर कार, 2 मोटरसाइकिल, 1 स्कूटी को वजीरपुर रोड गड्ढा कॉलोनी से बरामद कर लिया गया है।
चोरी की वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपी का एक दोस्त सचिन उर्फ सागर साथ देता था जिस को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

गिरफ्तार आरोपी डब्लू का इससे पूर्व में चोरी इत्यादी कोई भी अपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा है। आरोपी इन चार चोरियों में पहली बार पकड़ा गया है। आरोपी अपने भाई बबलू और अपनी मां के साथ फरीदाबाद में रहता था पिता का देहांत हो चुका है। आरोपी की मां ने बेटे को को नशे की आदत के चलते 1 साल पहले घर से निकाल दिया था।

आरोपी अपने दोस्तों के साथ रहता है और नशा करता है। नशे की पूर्ति के लिए चोरी की वारदात को अंजाम दे देता है। आरोपी नशा कर कहीं पर भी सो जाता है।
आरोपी उपरोक्त चोरी की गई बाईक और कार को बेचने की जुगत में था लेकिन लॉकडाउन की वजह से बाईक और कार को बेच नहीं पाया।
आरोपी को आज अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here