कैंपस देता है नेचुरल लीडरशिप : भारद्वाज

0
277

Faridabad News : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् की ओर से दिल्ली छात्र संघ चुनाव को मद्दे नजर रखते हुए मंगलवार को बैठक का आयोजन हुए। इस बैठक में एबीवीपी हरियाणा के प्रदेश मंत्री सुनील भारद्वाज ने शिरकत की। उन्होंने कहा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव पूरे देश की दशा और दिशा व राजनीतिक दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण चुनाव है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपने काम आधार पर छात्रों के बीच में रही है , वर्ष के 365 दिन छात्रों की समस्याओं के समाधान हेतु एबीवीपी संघर्षशील रहती है।

एबीवीपी दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश, परीक्षा, परिणाम जैसे विषयों को ठीक करने में लगी हुई हैं।

विद्यार्थी परिषद के लिए महिला सुरक्षा, सम्मान, स्वाबलंबन, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर कार्य कर रही है, उस्सी कड़ी में डूसू व एबीवीपी के संयुक्त तत्वाधान में एक वूमेन मैराथन कराई गई जिसमें हर छात्रा की जरूरत सैनिटरी नैपकिन को जीएसटी मुक्त करने की मांग की गई जिसका समर्थन करने के लिए बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार शामिल हुए, जिसका परिणाम ये की केंद्र सरकार को जीएसटी मुक्त करना पड़ा साथ ही डूसू व एबीवीपी के संयुक्त तत्वाधान में स्वम सिद्धा, मदारी, सामाजिक अनुभूति, जैसे महत्वपूर्ण कार्यक्रमो का आयोजन किया गया है। आने वाले समय में एबीवीपी शिक्षा के क्षेत्र में अमूल चूल परिवर्तन लाने की ओर अग्रसर होगा।

एबीवीपी खेलो के क्षेत्र में प्रतिभागी बने इसके लिए सभी कॉलेज में कोच व खेल से संभदित की सुख सुविधा उपलब्ध की जाए, ताकि विद्यार्थी मेडल लेकर डी.यू. व देश का नाम रोशन करे। एबीवीपी लंबे समय से सरकार से मांग करती आई है कि एससी-एसटी विद्यार्थियों को छात्रवृद्धि व छात्रों को छात्रावास उपलब्ध कराया जाए। एबीवीपी पूरी दुनिया को एक मानते हुए जम्मू से लेकर कन्याकुमारी , कच्छ से हर समस्या का समाधान करती आई है। एबीवीपी के प्रदेश कार्यकारणी सदस्य आदित्य मौर्या ने कहा कि डूसू में एबीवीपी ऐतिहासिक जीत दर्ज करेगी व राष्ट्रवाद का परचम लहराएगा।
छात्र नेता विकास ने फरीदाबाद से डीयू में पढ़ने वाले विद्यार्थियों से एबीवीपी पैनल को वोट देने की अपील की और कहा कि सभी छात्र अपने मतदान का इस्तेमाल अवश्य करे व सकारात्मक दृष्टिकोण रखते हुए नोटा जैसे नकारात्मक पक्ष का बहिष्कार करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here