छात्राओं की एनीमिया और त्वचा सबंधी रोगों की जांच के लिए शिविर का आयोजन

0
71

Faridabad News, 20 Nov 2019 : जे.सी. बोस विश्वविद्यालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आज भारत विकास परिषद (बीवीपी), फरीदाबाद और वैश्य समाज समिति (वीएसएस) फरीदाबाद के सहयोग से आज छात्राओं के लिए एनीमिया और त्वचा सबंधी रोगों की जांच के लिए स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया। शिविर का संचालन डीन स्टूडेंट वेलफेयर एंड वूमेन वेलफेयर सेल द्वारा किया गया। शिविर में 300 से अधिक छात्राओं तथा संकाय सदस्यों ने मुफ्त स्वास्थ्य जांच सुविधा का लाभ उठाया।

शिविर का उद्घाटन कुलपति प्रो दिनेश कुमार ने किया और स्वास्थ्य मुद्दों पर विद्यार्थियों में जागरूकता लाने के लिए आयोजकों द्वारा की जा रही पहल की सराहना की। कुलपति ने कहा कि आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया कुपोषण महिलाओं में होने वाली एक आम स्वास्थ्य समस्या है जो कई बीमारियों का प्रमुख कारण है और इसके प्रति जागरूकता जरूरी है। उन्होंने एनीमिया को दूर करने के लिए नियमित रूप से संतुलित पोषक आहार का सेवन करने की आवश्यकता पर बल दिया। कुलपति ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि वे छात्रावास में रहने वाली छात्राओं के लिए पोषक तत्वों से भरपूर आहार योजना तैयार करें और सुनिश्चित करें कि उन्हें हर दिन पर्याप्त आयरन और संतुलित आहार मिले। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. एस. के. एस गर्ग, भारत विकास परिषद और वैश्य समाज समिति के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

शिविर का समन्वय डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. सोनिया बंसल और महिला कल्याण प्रकोष्ठ की अध्यक्षा डॉ. अंजू गुप्ता द्वारा किया गया। विद्यार्थियों के हित में विश्वविद्यालय में विभिन्न प्रकार की गतिविधियों के आयोजन में प्रोत्साहन के लिए डाॅ. बंसल ने कुलपति प्रो. दिनेश कुमार का आभार जताया। उन्होंने बताया कि विद्यार्थी कल्याण विभाग भविष्य में आगे भी ऐसे कार्यक्रम आयोजित करेगा। शिविर के दौरान छात्राओं को हीमोग्लोबिन जांच और पोषण परामर्श की सुविधा भी प्रदान की गई। शिविर में होम्योपैथ विशेषज्ञ डॉ. ललित के अग्रवाल ने छात्राओं को त्वचा संबंधी समस्या के लिए परामर्श दिया और उन्हें मुफ्त दवाइयाँ प्रदान कीं। इस अवसर पर सर्वोदय अस्पताल फरीदाबाद के विशेषज्ञ चिकित्सक द्वारा एक स्वास्थ्य वार्ता का आयोजन भी किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here