जे.सी. बोस विश्वविद्यालय में आगामी सत्र से बीटेक, एमटेक के साथ बीए और एमए भी, दाखिले के लिए आनलाइन आवेदन आमंत्रित

0
32

Faridabad News, 10 May 2018 : जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद ने जुलाई में शुरू होने वाले आगामी शैक्षणिक सत्र के लिए यूजी व पीजी के विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए आनलाइन आवेदन आमंत्रित किये है। एमटेक को छोड़कर सभी पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 10 जून है जबकि एमटेक के लिए 30 जून, 2019 तक आनलाइन आवेदन किया जा सकता है। इस बार विश्वविद्यालय द्वारा नये सत्र से आटर्स तथा इंजीनियरिंग के नये पाठ्यक्रम शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इन नये पाठ्यक्रमों में जर्नलिज्म व माॅस कम्युनिकेशन में बीए, इंग्लिश में एमए, इलेक्ट्रिाॅनिक्स एवं कम्प्यूटर इंजीनियरिंग में बीटेक और पावर इलेक्ट्रिाॅनिक्स एवं ड्राइवस में एमटेक शामिल हैं।

इस संबंध में जानकारी देते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने बताया कि विश्वविद्यालय इंजीनियरिंग व विज्ञान के क्षेत्र में अंतःविषय पाठ्यक्रमों की योजना पर काम कर रहा है, जिसका उद्देश्य बदलते प्रौद्योगिकीय परिवेश में भावी जरूरतों को पूरा करने के लिए विद्यार्थियों को सक्षम बनाना है। इसी कड़ी में इलेक्ट्रिाॅनिक्स एवं कम्प्यूटर इंजीनियरिंग में 60 सीटों के साथ बीटेक का नया पाठ्यक्रम शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के अंतर्गत इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर इंजीनियरिंग का एकीकृत पाठ्यक्रम शुरू किया गया है। इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर इंजीनियरिंग में विद्यार्थी कंप्यूटिंग के हार्डवेयर के साथ-साथ साफ्टवेयर पहलुओं को भी जान पायेंगे, जैसेकि हार्डवेयर व सॉफ्टवेयर साथ-साथ कैसे काम करते है। पाठ्यक्रम के उपरांत विद्यार्थियों के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण उद्योग, दूरसंचार और आईटी उद्योग, हेल्थकेयर उपकरण निर्माण उद्योग, मोबाइल संचार व इंटरनेट प्रौद्योगिकी इत्यादि में रोजगार अवसर उपलब्ध होंगे। इसके अलावा, इलेक्ट्रिाॅनिक्स के क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करने के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए 18 सीटों के साथ पावर इलेक्ट्रिाॅनिक्स एवं ड्राइवस में एमटेक शुरू की जा रही है। इसी तरह मीडिया एवं जनसंचार के क्षेत्र में रोजगार की संभावनाओं को देखते हुए 40 सीटों के साथ जर्नलिज्म व माॅस कम्युनिकेशन में बीए शुरू की जा रही है। विश्वविद्यालय द्वारा जर्नलिज्म व माॅस कम्युनिकेशन में एमए पहले से ही चलाया जा रहा है। इसके साथ-साथ विश्वविद्यालय द्वारा नये सत्र से 35 सीटों के साथ इंग्लिश में एमए भी शुरू की गई है।

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय ने मौजूदा पाठ्यक्रमों तथा नये पाठ्यक्रमों के लिए सुविधाएं सृजित करने के उद्देश्य से कई कदम उठाये है, जिसमें नये शिक्षकों की भर्ती, नये क्लासरूम, लैब तथा कार्यालयों का निर्माण व नवीनीकरण, हॉस्टलों की मरम्मत तथा नये सुविधाएं सृजित करने के लिए विस्तार परियोजनाओं का क्रियान्वयन शामिल हैं।

जारी किये गये दाखिला कार्यक्रम के अनुसार, विश्वविद्यालय द्वारा शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए एमटेक के सभी पाठ्यक्रमों, फिजिक्स, कैमिस्ट्री, मैथ तथा एनवायरमेंट साइंस में एमएससी, एमबीए, एमसीए, एमसीए (लेटरल एंट्री), फिजिक्स, कैमिस्ट्री व मैथ में बीएससी ऑनर्स, एनिमेशन तथा मल्टीमीडिया में बीएससी, बीए (जर्नलिज्म व मॉस कम्युनिकेशन), एम.ए. (जर्नलिज्म व मॉस कम्युनिकेशन) तथा एमए (इंग्लिश) पाठ्यक्रमों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये है। उल्लेखनीय है कि विश्वविद्यालय में बीटेक व बीटेक (लेटरल एंट्री) के सभी पाठ्यक्रमों के लिए दाखिला हरियाणा राज्य तकनीकी शिक्षा सोसायटी द्वारा जेईई परीक्षा तथा योग्यता परीक्षा में उत्तीर्ण अंकों के आधार पर किया जायेगा। विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए योग्यता मानदंड, सीटों की संख्या व प्रवेश परीक्षा का कार्यक्रम इत्यादि की जानकारी दाखिला विवरणिका में दी गई है, जिसे विश्वविद्यालय की वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.वाईएमसीएयूएसटी.एसी.इन (www.ymcaust.ac.in) पर देखा जा सकता है और डाउनलोड किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here