हरियाणा के हर घर में पहुंचेंगे केजरीवाल के सूरमा

0
813
New Delhi News, 06 Jan 2019 : सियासी अखाड़े में नये-नये प्रयोगों के लिए मशहूर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरियाणा में भी एक अलग तरह का प्रयोग करने जा रहे हैं। इसके तहत आम आदमी पार्टी हर गांव, हर मोहल्ले, हर घर तक जाएगी। इस डोर-टू-डोर कैंपेन के लिए हर लोकसभा के हिसाब से पदाधिकारियों का ट्रेनिंग प्रोग्राम चल रहा है। दिल्ली में 5 जनवरी, 2019 को सोनीपत, अम्बाला और फरीदाबाद लोकसभाओं से आए वरिष्ठ पदाधिकारियों की ट्रेनिंग करवाई गई। अरविंद केजरीवाल खुद प्रशिक्षण दे रहे हैं।
प्रशिक्षण सत्र को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, “आम आदमी पार्टी आजादी की दूसरी लड़ाई लड़ रही है। हम सत्ता नहीं, व्यवस्था बदलने के लिए लड़ रहे हैं। हम ऐसी व्यवस्था लाना चाहते हैं जिसमें सबके लिए शानदार स्कूल-अस्पताल हों। किसानों खुशहाल हों। युवाओं को रोजगार मिले। महिलाओं को सुरक्षा मिले। आजादी के लिए कुर्बानी देने वालों ने ऐसी ही व्यवस्था का सपना देखा था। उनका ये सपना हमें पूरा करना है।“ केजरीवाल ने कहा कि पार्टी की इस मूल भावना को हरियाणा में घर-घर तक पहुंचाना है। इस डोर-टू-डोर कैंपेन में हर पदाधिकारी को हिस्सा लेना है चाहे वह राज्य स्तर का हो, जिला स्तर का हो, लोकसभा स्तर का हो या फिर विधानसभा स्तर का हो। सभी पदाधिकारियों को शुरुआत में एक गांव का चयन करना है। वहां कम से कम 10 लोगों की टीम बनानी है और उनसे डोर-टू-डोर करवाना है।
क्या है केजरीवाल की नई योजना
इस नये अभियान के बारे में बताते हुए हरियाणा के प्रभारी और दिल्ली में कैबिनेट मंत्री गोपाल राय कहते हैं कि हरियाणा में 10 लोकसभा सीटें हैं। हर लोकसभा के वरिष्ठ पदाधिकारियों के लिए ट्रेनिंग सेशन किया जा रहा है। ये सभी वरिष्ठ पदाधिकारी खुद गांवों में जाकर डोर-टू-डोर करवाएंगे। इनको एक फॉर्म दिया गया है जिसमें कुछ प्रश्न लिखे हुए हैं। इस फॉर्म को लेकर टीमें घर-घर जाएंगी और जनता से चर्चा करेंगी।
हरियाणा के प्रभारी ने बताया कि सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों को दिल्ली में ट्रेनिंग दी जा रही है। ये पदाधिकारी खुद के चयन किये गये गांवों में जाकर कम से कम 10 लोगों की एक टीम बनाएंगे। इस टीम को मोटिवेट करेंगे। इसके बाद उन्हें वैसी ही ट्रेनिंग देंगे जैसी उन्हें दिल्ली में दी गई है। इसके बाद ये टीमें समहू में आम आदमी पार्टी की टोपी लगाकर घर-घर में जाएगी। ये टीमें चौराहों, नुक्कड़ और चौपालों में भी जाएंगी और वहां लोगों से चर्चा करेंगी।
क्या है इस अभियान का उद्देश्य
इस अभियान के उद्देश्य के बारे में बताते हुए हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिन्द कहते हैं कि दो बातें बिलकुल स्पष्ट हैं। पहली कि खट्टर ने हरियाणा में कुछ नहीं किया। दूसरी कि केजरीवाल ने जनता के लिए दिल्ली में जो काम पिछले साढ़े तीन साल में करके दिखा दिया वो काम बाकी पार्टियां पिछले 70 साल में देश में नहीं कर पाईं।
वह कहते हैं कि हरियाणा को लेकर हमारा फीडबैक ये है कि इन दो बातों से वहां के लोग अच्छी तरह वाकिफ हैं। हरियाणा के लोग मानते हैं कि खट्टर के बस का कुछ नहीं है और वो लोग ये भी मानते हैं कि केजरीवाल ने दिल्ली में शानदार काम किया है। अपनी रणनीति का खुलासा करते हुए नवीन जयहिन्द कहते हैं कि इस अभियान से हम जनता के बीच केजरीवाल के कामों और खट्टर के नकारेपन की चर्चा करेंगे।
दिल्ली में चल रहा है ट्रेनिंग कार्यक्रम
इस अभियान के लिए आम आदमी पार्टी दिल्ली में ट्रेनिंग कार्यक्रम कर रही है। ये ट्रेनिंग कार्यक्रम 4 दिन चलेगा। पहले दिन 5 जनवरी को सोनीपत, अंबाला, फरीदाबाद लोकसभा के वरिष्ठ पदाधिकारियों को ट्रेनिंग दी गई। गुड़गांव, हिसार और करनाल लोकसभा के वरिष्ठ पदाधिकारियों की ट्रेनिंग 6 जनवरी को होगी। इसके बाद 8 जनवरी को रोहतक, सिरसा और भिवानी लोकसभा के वरिष्ठ पदाधिकारी इसकी ट्रेनिंग के लिए दिल्ली आएंगे। कुरुक्षेत्र लोकसभा के पदाधिकारियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम 9 जनवरी को रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here